UP GOVERNMENT FREE SMART PHONE, TABLET, LAPTOP YOJNA

मुख्यमंत्री योगी ने किया लैपटॉप- स्मार्टफोन का शुभारंभ, लाखों छात्रों को मिलेगा बड़ा फायदा

भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) के जन्मदिन के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘मुफ्त टैबलेट और स्मार्टफोन वितरण योजना’ का शनिवार 25 दिसंबर को शुभारंभ किया है।इस योजना के तहत पीजी, ग्रेजुएशन, मेडिकल इंजीनियरिंग और कौशल विकास प्रशिक्षण से जुड़े छात्रों को मुफ्त टैबलेट और स्मार्टफोन का वितरण किया जा रहा है।हम आपको बता दें कि इस कार्यक्रम का आयोजन राजधानी लखनऊ के इकाना स्टेडियम में किया गया था।

मीडिया की खबरों के अनुसार सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने हाथ से 26 छात्रों को टैबलेट और स्मार्टफोन दिए। इस मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने ओलिंपिक में रजत पदक विजेता मीराबाई चानू को डेढ़ करोड़ रुपये और उनके कोच विजय शर्मा को 10 लाख रुपये की धनराशि देकर सम्मानित किया।

युवाओं को तकनीकी रूप से सशक्त बनाना लक्ष्य –

सरकार ने इस योजना के लिए बयान जारी कर बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विद्यार्थियों को तकनीकी रूप से एक्सपर्ट बनाने के लिए एक करोड़ युवाओं को मुफ्त स्मार्ट मोबाइल फोन और टैबलेट देने का ऐलान किया है। आपको बता दें कि इस योजना के तहत पहले चरण में आज 60 हजार मोबाइल फोन और 40 हजार टैबलेट का वितरण किया गया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टैबलेट और स्मार्टफोन वितरण योजना का शुभारंभ करते हुए छात्रों को बधाई दी और कहा की, ‘श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी की जयंती ‘सुशासन दिवस’ के अवसर पर आज उत्तर प्रदेश के 01 करोड़ युवाओं हेतु स्मार्टफोन व टैबलेट वितरण अभियान का शुभारंभ हुआ हैं।

तैयारी : सीटीईटी प्रश्नपत्र समय से डाउनलोड करने को सीबीएसई ने बनाई इंजीनियरों की टीम

CTET 2021: राष्ट्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) सुचारू और सही तरीके से हो, इसके लिए सीबीएसई पूरी तैयारी में जुट गया है। सभी केंद्रों पर प्रश्न पत्र समय से हर कंप्यूटर पर डाउनलोड हो सके, इसके लिए इंजीनियरों की टीम बनायी गयी है। यह टीम परीक्षा के समय सर्वर के पास रहेगी। परीक्षा शुरू होने के पहले सर्वर की जांच होगी। इसको लेकर रविवार को ट्रायल भी किया गया है। ट्रायल के दौरान उन परीक्षा केंद्रों को अधिक फोकस किया गया, जहां पर सर्वर कमजोर होने से प्रश्न पत्र डाउनलोड करने में परेशानी हुई। सीबीएसई सूत्रों की मानें तो हर केंद्र पर नजर रखी जायेगी।

ज्ञात हो कि सीटीईटी 16 दिसंबर से शुरू हुआ। लेकिन, परीक्षा के पहले ही दिन प्रश्न पत्र डाउनलोड करने में परेशानी हुई। पेपर-1 का प्रश्न पत्र तो जैसे-तैसे डाउनलोड करके ले लिया गया। लेकिन पेपर-2 की परीक्षा नहीं ली जा सकी। बाद में अभ्यर्थियों के हंगामे के बाद सीबीएसई को 16 दिसंबर के पेपर-2 को स्थगित करना पड़ा। इसके बाद 17 दिसंबर के दोनों पेपर को भी स्थगित कर दिया गया। इसके बाद अब सोमवार को परीक्षा ली जानी है। इसको लेकर तैयारी पूरी कर ली गयी है।

-हर केंद्र पर 650 परीक्षार्थी रहेंगे
सीटीईटी के सोमवार की परीक्षा में सूबे से 66 हजार से अधिक परीक्षार्थी शामिल होंगे। हर केंद्र पर 650 परीक्षार्थी रहेंगे। ज्ञात हो कि प्रदेश भर में 56 परीक्षा केंद्र बनाये गए हैं। इसमें 32 केंद्र केवल पटना जिले में है। सीटीईटी की सिटी को-ऑर्डिनेटर ग्लेंण्डा गॉलस्टॉन ने बताया कि सभी केंद्रों पर पुख्ता इंतजाम किया गया है। प्रश्न पत्र डाउनलोड को लेकर किसी तरह की परेशानी न हो, इसके लिए सर्वर को भी मजबूत किया गया है।

13 जनवरी के बाद होगी स्थगित परीक्षा
बोर्ड सूत्रों की मानें तो जिन तीन पेपर की परीक्षा को स्थगित किया गया है, उनकी परीक्षा 13 जनवरी के बाद होने की संभावना है। चूंकि 16 दिसंबर से 13 जनवरी तक हर दिन परीक्षा ली जायेगी। बोर्ड द्वारा पूरा शिड्यूल तैयार है। ऐसे में तीन पालियों की परीक्षा इस बीच नहीं ली जा सकेगी। बोर्ड की मानें तो सारी परीक्षा लेने के बाद ही स्थगित विषयों की परीक्षा ली जायेगी।

तकनीकी छात्रों को मिलेगा टैबलेट, सामान्य स्नातक को दिया जाएगा स्मार्टफोन:- जानिए किस कोर्स के छात्र को मिलेगा क्या?

योगी सरकार ने यह स्पष्ट कर दिया है कि निशुल्क टैबलेट व स्मार्टफोन किसे-किसे दिया जाएगा। तकनीकी शिक्षा, चिकित्सा शिक्षा और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के विद्यार्थियों को टैबलेट दिए जाएंगे। वहीं, उच्च शिक्षा विभाग के स्नातक एवं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम वाले विद्यार्थियों को स्मार्टफोन दिए जाएंगे। नोडल एजेंसी यूपीडेस्को की ओर से इसकी खरीद के लिए वित्तीय निविदा पूरी हो गई है। आपूर्ति सैमसंग, एसर और लावा जैसी कंपनियां करेंगी। तीनों

कंपनियां 12,700 की दर से टैबलेट कंपनियां 12,700 की दर से टैबलेट आपूर्ति करेंगी, जबकि लावा व सैमसंग एक स्मार्टफोन 10,700 में आपूर्ति करेंगी। जानकारी के मुताबिक टैबलेट और स्मार्टफोन का वितरण 20 दिसंबर के बाद शुरू हो जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथों भव्य समारोह में इसका वितरण किया जाएगा। इस पर करीब 4700 करोड़ रुपये की लागत आएगी।

इन्हें टैबलेट: 2021 में तकनीकी शिक्षा के तहत अध्ययरत विद्यार्थियों, तकनीकी शिक्षा (डिप्लोमा), आईटीआई में प्रशिक्षणरत विद्यार्थियों, राजकीय एवं निजी मेडिकल कॉलेजों डेंटल कॉलेजों (एमबीबीएस, एमएस, एमडी, बीडीएस) और नर्सिंग कॉलेजों में बीएससी और एमएससी नर्सिंग कोर्स, पैरामेडिकल और नर्सिंग के विद्यार्थियों को।

इन्हें स्मार्टफोन स्नातक एवं स्नातकोत्तर के विद्यार्थियों, सेवा मित्र पोर्टल पर पंजीकृत कुशल श्रमिकों, एमएसएमई विभाग की विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना, एससी-एसटी स्वरोजगार प्रशिक्षण योजना, पिछड़ा वर्ग प्रशिक्षण योजना और ओडीओपी की प्रशिक्षण योजना में पंजीकृत प्रशिक्षणार्थियों को

25 दिसंबर से युवाओं को फ्री टैबलेट एवं स्मार्टफोन बांटना शुरू करेगी योगी सरकार, जानिए लेटेस्ट अपडेट्स

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने युवाओं को स्मार्टफोन और टैबलेट बांटने तैयारी पूरी कर ली है। पूर्व प्रधानमंत्री स्व.अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिवस 25 दिसंबर से इसका वितरण शुरू हो जाएगा।पहले चरण में 10.50 स्मार्टफोन व 2.50 लाख टैबलेट का वितरण होगा।

स्मार्टफोन की सप्लाई आईटी विभाग को 20 से दिसंबर से शुरू होने की उम्मीद है। इसके कुछ दिनों बाद टैबलेट्स की आपूर्ति शुरू हो जाएगी। युवाओं को इसका वितरण 25 दिसंबर से करने की तैयारी है।

इसमें टैबलेट के लिए विशटल , सैमसंग और एसर (सेलकॉन) और स्मार्टफ़ोन के लिए लावा, सैमसंग (सेलकॉन) और सैमसंग (यूनाइटेड) ने आपूर्ति करने के लिए टेंडर में भाग लिया है। बताया जा रहा है कि टैबलेट की आपूर्ति दिसंबर के आखिरी में होगी। ऐसे में इसका वितरण जनवरी में ही हो पाएगा। स्मार्टफ़ोन और टैबलेट्स वितरण के लिए मुख्यमंत्री जल्द डीजी शक्ति पोर्टल लांच करेंगे।

टेबलेट-स्मार्ट फोन बांटने के लिए जिलों में खास तैयारियां, तहसीलों में सेंट्रल स्टोर बन रहा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की महत्वाकांक्षी योजना के तहत 12वीं में 65 फीसद से अधिक अंक पाने वालों को बंटने वाले टेबलेट के लिए जिलों में तैयारियां तेज हो गई हैं। टेबलेट के लिए तहसीलों में सेंट्रल स्टोर बनाया जाएगा। इसके साथ ही एक फीसदी टेबलेट की रैंडम चेकिग की जाएगी। हर जिलों में टेबलेट पाने वाले छात्रों की संख्या लाखों में होने के कारण अधिकारी तैयारियों में जुट गए हैं। जौनपुर में लगभग साढ़े तीन लाख छात्र-छात्राओं में टेबलेट व स्मार्ट फोन का वितरण किया जाना है।

यहां इसे लेकर चार तहसीलों में सेंटर स्टोर बनाया गया है। इसकी रखवाली सीसीटीवी व पुलिस कर्मियों के जरिए की जाएगी। इसके साथ ही आने के बाद इनकी रैंडम जांच की जाएगी। युवाओं में तकनीकी सशक्तीकरण के लिए प्रदेश शासन ने टेबलेट-स्मार्ट फोन देने का निर्णय लिया है। इसको लेकर कालेजों में शैक्षणिक संस्थानों से फार्म आनलाइन फीडिग कराई जा रही है।

महावद्यिालयों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं में स्मार्ट फोन व टेबलेट का वितरण किया जाना है। अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व रजनीश राय ने बताया कि दिसंबर के पहले सप्ताह में चीजें स्पष्ट हो जाएंगी। इसके बाद टेबलेट आने के बाद तहसीलों में सेंट्रल स्टोर बनाया जाएगा। इसके साथ ही एक फीसद टेबलेट की रैंडम चेकिग की जाएगी।

श्री राय ने बताया कि टेबलेट स्टोरेज के लिए स्ट्रांग रूम तहसील केराकत, मछलीशहर, मड़ियाहूं, सदर में बनाए जाएंगे, जहां सीसीटीवी, गार्ड की व्यवस्था करने का नर्दिेश उपजिलाधिकारी को दिया गया है। टेबलेट वितरण के लिए प्रत्येक स्कूल में नोडल अधिकारी बनाए जाएंगे।

FREE मोबाइल - टेबलेट योजना

दिसंबर के पहले सप्ताह से विद्यार्थियों को मिलने लगेंगे टैबलेट और स्मार्ट फोन, आपूर्ति का शेड्यूल तय

प्रदेश में स्नातक, परास्नातक, तकनीकी शिक्षा, मेडिकल शिक्षा के विद्यार्थियों और कौशल विकास व एमएमएसई की योजनाओं के प्रशिक्षणार्थियों सहित कुल 68,30,837 युवाओं के लिए अच्छी खबर है। योगी सरकार की घोषणा के अनुसार, दिसंबर के पहले सप्ताह से इन विद्यार्थियों के लिए टैबलेट और स्मार्ट फोन का मुफ्त वितरण शुरू कर दिया जाएगा। टेंडर के माध्यम से जो भी कंपनियां चयनित होंगी, उनके लिए आपूर्ति का शेड्यूल भी शर्तों में शामिल कर दिया गया है।

लाभार्थियों का चयन संबंधित शिक्षण या अन्य संस्थान के प्रमुख और विभागाध्यक्ष के माध्यम से किया जाएगा। सरकार ने साफ किया है कि योजना में उन्हीं का चयन किया जाएगा जिन्हें सरकार (स्कूलों के विद्यार्थियों को छोड़कर) की किसी अन्य योजना से टैबलेट या स्मार्ट फोन नहीं मिले हैं। अपर मुख्य सचिव, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास अरविंद कुमार ने बताया कि टेंडर पहले ही जारी किए जा चुके हैं। नवंबर के अंत तक टेंडर प्रक्रिया पूरी करके आपूर्तिकर्ता कंपनियों या फर्मों को चयनित कर लिया जाएगा। दिसंबर के पहले सप्ताह से आपूर्ति होने लगेगी साथ ही वितरण भी शुरू कर दिया जाएगा।

FREE टैबलेट और स्मार्ट फोन पाने वालों तैयार हो रही लिस्ट , जानें कहां होगा रजिस्ट्रेशन !, कैसे बनेगी लिस्ट! , कैसे होगा चयन?

यूपी में बंटने वाले फ्री टैबलेट और स्मार्ट फोन का इंतजार कर रहे लाखों युवाओं का इंतजार जल्द ही खत्म होने वाला है। योगी सरकार युवाओं को स्मार्ट फोन और टैबलेट इसी माह बांटने जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि इसके लिए जल्द ही सूची तैयार करा ली जाए।

मुख्यमंत्री ने टीम-9 के साथ बैठक में अधिकारियों से कहा कि जिन बच्चों को स्मार्टफोन और टैबलेट वितरित किए जाने हैं, उनकी सूची तैयार कर ली जाए, जिससे नवंबर माह के अंत तक स्मार्टफोन और टैबलेट वितरण की प्रक्रिया प्रारंभ की जा सके। बता दें कि सीएम योगी आदित्‍यनाथ के नेतृत्‍व वाली यूपी सरकार ने प्रदेश के 68 लाख छात्र-छात्राओं (यूजी और पीजी) को टैबलेट या स्‍मार्टफोन देने जा रही है।

कैसे बनेगी लिस्ट :

सूत्रों की मानें तो टैबलेट या स्‍मार्टफोन का वितरण पात्र छात्र-छात्राओं का डाटा पोर्टल पर फीड करने के बाद किया जाएगा। यह बड़ी खरीद जेम पोर्टल के जरिए ही की जाएगी। चुनाव को देखते हुए सरकार की कोशिश है कि आचार सं‍हिता लागू होने के पहले ही प्रक्रिया पूरी हो जाए और स्‍मार्ट फोन और टैबलेट छात्र-छात्राओं के हाथ में पहुंच जाएं। सरकार ने पात्र विद्यार्थियों का डाटा फीड करने की जिम्मेदारी तय कर दी है। बताया जा रहा है कि छात्र-छात्राएं जहां अध्‍ययनरत हैं उसी यूनिवर्सिटी, महाविद्यालय और अन्‍य शिक्षण संस्थानों को पूरी सावधानी बरतते हुए डेटा फीड करना होगा। डाटा फीडिंग के बाद योजना के तहत आने वाले विद्यार्थियों को स्‍मार्टफोन और टैबलेट मिलने की जानकारी मोबाइल पर दी जाएगी।

किन युवाओं को मिलेगा फ्री टैबलेट ?

योगी सरकार की फ्री टैबलेट या स्मार्ट फोन बांटने की योजना का लाभ छात्रों के अलावा अन्य लोगों को भी मिलेगा। प्लम्बर, कारपेंटर, नर्स, इलेक्ट्रीशियन, ए.सी. मैकेनिक आदि को भी टैबलेट/स्मार्ट फोन दिए जाएंगे, जिससे वे नागरिकों को बेहतर सेवाएं प्रदान करते हुए अपनी जीविका भी चला सकें। योजना के तहत प्रस्तावित लाभार्थी वर्ग में अन्य वर्ग के युवाओं को भी समय-समय पर मुख्यमंत्री के अनुमोदन से सम्मिलित किया सकेगा। किस लाभार्थी वर्ग को टैबलेट प्रदान किया जाना है तथा किसे स्मार्ट फोन दिए जाने हैं, इसका निर्णय मुख्यमंत्री के स्तर से लिया जाएगा। टैबलेट-स्मार्ट फोन के वितरण के लिए लाभार्थी वर्ग की प्राथमिकता का निर्धारण और चरणबद्ध क्रय के संबंध में भी निर्णय मुख्यमंत्री के स्तर से लिया जाएगा। भविष्य में आने वाली व्यावहारिक कठिनाइयों के निराकरण के लिए योजना के तहत किसी भी संशोधन के लिए मुख्यमंत्री को अधिकृत किया गया है।

ऐसे होगा चयन-

इस योजना का लाभ देने के लिए योगी सरकार हर जिले में जिलाधिकारी की अध्यक्षता एक कमेटी बनाएगी इसमें छह सदस्य होंगे। जो चिन्हित शिक्षण संस्थानों की सूची तैयार करेगी। उन्होंने बताया कि यह स्मार्ट फोन या टैबलेट जेम पोर्टल के जरिये ही खरीदे जाएंगे। जेम पोर्टल ही नोडल एजेंसी होगी। यह टैबलेट या स्मार्ट फोन किन युवाओं को दिये जाएंगे, इसकी पात्रता भी तय की जाएगी।

Vinay Singh

DElEd Up BTC Math/English/Science PATHSHALA For TET/UPTET/CTET/SuperTET/Sahayak adhyapak ki taiyari Free Youtube Online Maths Classes daily.... Channel Owner ~~ "Vinay Singh" From U.P. : "New Delhi", "Raebareli, Uttar Pradesh"

This Post Has One Comment

Leave a Reply